सीबीएसई 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में बड़ा बदलाव, अब सभी विषयों में पास होना अनिवार्य

CBSE Board 2024, नई दिल्ली: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं के प्रारूप में बड़े बदलाव की घोषणा की है।

CBSE Board Class 10th, 12th Updates 2024-25: शैक्षणिक सत्र 2024-25 से 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों को सभी विषयों में उत्तीर्ण होना अनिवार्य होगा। सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं की जानकारी पाने वाले विद्यार्थियों और अभिभावकों के लिए यह एक महत्वपूर्ण अपडेट है।

मुख्य बदलाव ये हैं: CBSE Exam Pattern 2024-25

  • सभी विषय अनिवार्य: अब तक, छात्र कुछ वैकल्पिक विषयों का चयन कर सकते थे। नए बदलाव के तहत, कक्षा 10वीं और 12वीं के छात्रों को बोर्ड परीक्षा में शामिल सभी विषयों में सफलता प्राप्त करनी होगी।
  • विषयों की संख्या: कक्षा 10वीं के लिए बोर्ड द्वारा निर्धारित मुख्य विषयों की संख्या में कुछ बदलाव हैं। कक्षा 12वीं के छात्रों को भी समूहों में बांटे गए विभिन्न विषयों से अपनी पढ़ाई जारी रखनी होगी।
  • भाषा की प्राथमिकता: सीबीएसई ने भारत में बोली जाने वाली भाषाओं के महत्व पर जोर दिया है। बोर्ड परीक्षाओं में हिंदी और अन्य क्षेत्रीय भाषाओं को अहमियत दी जाएगी।

क्यों हुए ये बदलाव?

सीबीएसई का उद्देश्य छात्रों की व्यापक समझ और समग्र विकास सुनिश्चित करना है। इन बदलावों से परीक्षाओं की तैयारी और मूल्यांकन प्रक्रिया में और अधिक निष्पक्षता भी आएगी।

विद्यार्थियों पर प्रभाव

इस फैसले के दूरगामी परिणाम सामने आएंगे। विद्यार्थियों को अब हर विषय की पढ़ाई को लेकर अधिक गंभीरता दिखानी होगी, जिससे अध्ययन का बोझ बढ़ने की संभावना है। छात्रों और अभिभावकों को सलाह दी जाती है कि वे इन नए दिशानिर्देशों के अनुसार अपनी अध्ययन योजनाओं को अपडेट करना शुरू कर दें।

शिक्षा विशेषज्ञों के विचार

इस निर्णय के पक्ष में मिश्रित प्रतिक्रियाएं रही हैं। कुछ शिक्षाविदों का मानना है कि इन बदलावों से शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ेगी। वहीं, कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि परीक्षा के बढ़ते दबाव का छात्रों की मानसिक सेहत पर असर पड़ सकता है।

नोट:- सीबीएसई द्वारा घोषित नवीनतम परिवर्तनों के बारे में अधिक जानकारी के लिए, छात्रों और अभिभावकों को सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट पर  नियमित रूप से जाना चाहिए।