Hast Rekha Shastra: इस रेखा से आपकी किस्मत बदल सकती है, हस्तरेखा पढ़ें

Hast Rekha Shastra, Hath Ki Rekha: ज्योतिष शास्त्र में हस्त रेखा को बहुत महत्व दिया जाता है। इसका मतलब है कि हस्तरेखा की मदद से किसी व्यक्ति के भविष्य की भविष्यवाणी की जा सकती है।

Hast Rekha Shastra: ज्योतिष शास्त्र में हस्त रेखाओं को बहुत महत्व दिया जाता है। हाथ के आकार, हथेली की लकीर इत्यादि का अध्ययन करके हस्त रेखाओं के माध्यम से व्यक्ति के भविष्य के बारे में जानकारी प्राप्त की जा सकती है। चलिए जानते हैं कि कौन सी रेखाएं हैं, जिनसे हम अपने जीवन की महत्वपूर्ण बातों का पता लगा सकते हैं।

Hast Rekha Shastra: विवाह रेखा

यह रेखा छोटी उंगली के नीचे सीधी होती है। जितनी यह रेखा साफ होगी, वैवाहिक जीवन उतना ही अच्छा होगा। इस रेखा के ऊपर या नीचे जाने से विवाह में समस्या हो सकती है। अगर यह रेखा टूट जाए, तो विवाह टूट सकता है।

Hast Rekha Shastra: प्रेम रेखा

चंद्रमा या शुक्र पर्वत पर छोटी रेखाओं की होना प्रेम की सूचना देती है। यदि वे गुलाबी हों, तो वे प्रेम के आरंभ की संकेत हैं। जब यह अधिक उभरा हुआ हों, तो वे प्रेम विवाह के लिए योग्य होते हैं। जब चारों पर्वतों पर रेखाएं हों, तो प्रेम विवाह में सफलता नहीं मिलती है।

Hast Rekha Shastra: संतान रेखा

विवाह रेखा के ऊपर और शुक्र पर्वत की जड़ में संतान रेखा की स्थितियां होती हैं। यहाँ पाए जाने वाले क्रॉस, तिल, शाखा संतानोत्पत्ति में परेशानी खड़ी करते हैं।

Hast Rekha Shastra: रोजगार रेखा

पहाड़ी पर होने वाली एक रेखा और हाथ में उठाने वाली एक रेखा, रोजगार क्षेत्र को निर्धारित करती हैं। अगर पहाड़ों की ऊँचाई कम हो और हाथ की रंगत कम हो, तो इससे रोजगार में समस्या हो सकती है।

Hast Rekha Shastra: स्वास्थ्य रेखा

बुध पर्वत की ओर जाने वाली जीवन रेखा से स्वास्थ्य के बारे में जाना जा सकता है। इस रेखा पर अगर वर्ग हो तो यह बहुत अच्छा होता है। लेकिन अगर क्रॉस, स्टार जैसे चिन्ह रेखाओं पर हो तो इसे अच्छा नहीं माना जाता है। 

डिस्क्लेमर: इस लेख में दिए गए जानकारी को हम सत्य और सटीक्ता से पूरा नहीं कह सकते। इन्हें अपनाने से पहले, संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह लें।

“Lal-imlI.com” से ताजा अपडेट पाने के लिए हमारे WhatsApp चैनल को सब्सक्राइब करें!